Career Point Shimla

+91-98052 91450

info@thecareerspath.com

RBI – NBFC के लिए नए मसौदा नियम | New RBI Rules For NBFCs

      RBI – NBFC के लिए नए मसौदा नियम | New RBI Rules For NBFCs

बैकिंग सेक्टर में स्थिरता लाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों के लिए सख्त नियम लागू करने की तैयारी में है। NBFCs के लिए रेगुलेटरी फ्रेमवर्क बनाने के लिये RBI ने एक ड्राफ्ट पेपर जारी किया। जिसमें RBI ने कहा कि फाइनेंशियल सेक्टर की बदलती हुआ वास्तविकताओं के साथ कदम-से-कदम मिलाकर चलने के लिए NBFCs के लिए रेगुलेटरी फ्रेमवर्क में बदलाव की जरूरत है। इस डिस्कशन पेपर में कहा गया है कि NBFCs के लिए बनाए जाने वाला रेगुलेटरी फ्रेमवर्क 4 लेयर्स के स्ट्रक्चर पर आधारित होना चाहिए। रेगुलेटरी फ्रेमवर्क के स्ट्रक्चर में बेस लेयर, मिडिल लेयर, अपर लेयर और टॉप लेयर होना चाहिए। बेस लेयर ने वैसे NBFCs को रखने का सुझाव दिया गया जो नॉन-डिपोजिट NBFCs हैं, यानी जिनमें लोग पैसे जमा नहीं करते हैं। वहीं, मिडिल लेयर में वैसै नॉन-डिपोजिट NBFCs जो फाइनेंशियल सिस्टम के लिए जरूरी हैं, उन्हें रखने की बात कही गई है। इनमें हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के साथ दूसरे NBFCs को रखने का सुझाव दिया गया है और कहा गया है कि इनके लिए जो नियम बनें, वे बेस लेयर से कड़े होने चाहिए

https://www.youtube.com/watch?v=lHHuIxiOc4A&list=PLA35FD0BB4504FE6E&index=1

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top